Saturday, August 20, 2022
HomeIndiaइन चार लड़कों ने मिलकर लुलु मॉल में पढ़ा था नमाज

इन चार लड़कों ने मिलकर लुलु मॉल में पढ़ा था नमाज

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले चार युवकों की पहचान कर ली गई है. आज सुबह चारों को हिरासत में ले लिया गया। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने लुलु मॉल जाकर एक साथ नमाज अदा की. गिरफ्तार किए गए चारों लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों भाई निकले हैं.

लुलु मॉल में नमाज पढ़कर माहौल खराब करने वाले 4 लड़कों के नाम और पते सामने आए हैं. नमाज अदा करने वालों में लखनऊ के इंदिरानगर थाना अंतर्गत खुर्रम नगर निवासी मोहम्मद रेहान, आतिफ खान, मोहम्मद लुकमान और मोहम्मद नोमान शामिल हैं. लुकमान और नोमन सगे भाई हैं और दोनों सीतापुर के रहने वाले हैं।

लखनऊ के पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर ने बताया कि गिरफ्तार चारों आरोपियों ने लुलु मॉल के अंदर नमाज भी पढ़ी थी. लखनऊ पुलिस आयुक्त ध्रुव कांत ठाकुर ने आगे बताया कि गिरफ्तार चारों आरोपियों के खिलाफ धारा 153ए(1) 341, 505 295ए के तहत मामला दर्ज किया गया है.

12 जुलाई को लखनऊ के लुलु मॉल के अंदर से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें कुछ लोग नमाज पढ़ते नजर आ रहे थे. इसके बाद लखनऊ के सुशांत गोल्फ सिटी थाने में लुलु मॉल के जनसंपर्क अधिकारी सिब्बटेन हुसैन द्वारा शिकायत दी गई और अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया.


लखनऊ पुलिस को सीएम योगी के निर्देश

लुलु मॉल विवाद पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा रुख अख्तियार किया है. सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान उन्होंने कहा कि लखनऊ में एक मॉल खुला है, वह मॉल अपने व्यावसायिक प्रतिष्ठान के लिए काम कर रहा है, इसे राजनीति का अड्डा बनाना, सड़कों पर प्रदर्शन करना, यातायात बाधित करना गलत है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘लखनऊ प्रशासन को बार-बार कहा गया कि अराजकता की स्थिति पैदा करने, सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने की दुर्भावनापूर्ण कोशिश को गंभीरता से लिया जाना चाहिए और किसी भी तरह की शरारत को स्वीकार नहीं करना चाहिए. अनावश्यक बातों को बढ़ावा देकर माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों से सख्ती से निपटा जाए।

क्या है पूरा विवाद?

दरअसल, उद्घाटन से पहले ही लखनऊ का लुलु मॉल सुर्खियों में आ गया था। इसकी खासियत, तस्वीरें, मालिक का नाम, लुलु का मतलब, ये सारी चीजें गूगल पर सर्च की जाने लगीं। 10 जुलाई को प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ खुद मॉल का उद्घाटन करने पहुंचे और खुद मॉल के मालिक युसूफ अली ने योगी को वहां से भगा दिया.

लुलु मॉल के उद्घाटन के चार दिन बाद मॉल में नमाज अदा करने का एक वीडियो सामने आया और हंगामा हो गया। हिंदू संगठनों ने कहा कि मॉल में पूजा हुई है, हनुमान चालीसा भी होगी। अब नमाज के वीडियो को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कहा जा रहा है कि नमाज के पीछे कोई गहरी साजिश है।

बताया जा रहा है कि 18 सेकेंड में 9 लोगों ने नमाज अदा की, ऐसा कैसे हो सकता है। लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज अदा करने को लेकर ये सवाल उठ रहे हैं, हमने नमाज का सीसीटीवी वीडियो भी काफी करीब से देखा. वीडियो में आप देख सकते हैं कि 8 लोग एक लाइन में बैठे हैं, और उनके सामने यानी नमाज़ पढ़ाने वाला बैठा है.

एक दिशा में 8 लोग बैठे हैं और नमाज पढ़ने वाले की दिशा अलग है। लुलु मॉल के सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, पूजा करने वालों ने महज 18 सेकेंड में नमाज पूरी कर ली, जबकि आमतौर पर नमाज अदा करने में 7-8 मिनट का समय लगता है। अब सवाल यह है कि क्या साजिश के तहत नमाज अदा की गई?

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments