Friday, August 19, 2022
HomeTechnology80 सेकेंड में साफ होते हैं कपड़े इस Wasing Machine मे, नहीं...

80 सेकेंड में साफ होते हैं कपड़े इस Wasing Machine मे, नहीं लगता पानी और डिटर्जेंट

वॉशिंग मशीन ने कपड़े धोने का काम तो आसान कर दिया है, लेकिन इसकी कीमत भारी है। लोगों को न केवल मशीन खरीदने और चलाने पर पैसा खर्च करना पड़ता है, बल्कि इसमें खर्च होने वाले पानी की मात्रा का अनुमान लगाना मुश्किल है। जहां दुनिया के कई हिस्सों में लोगों को पीने का पानी नहीं मिल रहा है.

वहीं, वॉशिंग मशीन में सैकड़ों लीटर पानी चंद कपड़ों को साफ करने में बर्बाद हो जाता है। इतना ही नहीं इसके लिए हमें डिटर्जेंट का इस्तेमाल करना पड़ता है, जो हमारी त्वचा के लिए अच्छा नहीं होता है।

इससे कपड़ों का कपड़ा भी खराब हो जाता है। ऐसे में एक स्टार्टअप ने इसका हल निकालने का अच्छा प्रयास किया है। कंपनी का नाम 80 वॉश है। इसने एक ऐसी वॉशिंग मशीन तैयार की है जो 80 सेकेंड में कपड़े साफ करती है।

80वाश से बनी निर्जल वाशिंग मशीन
चंडीगढ़ स्थित 80वॉश दो समस्याओं को हल करने की कोशिश कर रहा है। एक है ऑटोमैटिक और दूसरी वाशिंग मशीन में इस्तेमाल होने वाला पानी और दूसरा है डिटर्जेंट के नाम पर इस्तेमाल होने वाले केमिकल।

इसके लिए रुबल गुप्ता, नितिन कुमार सलूजा और वीरेंद्र सिंह ने 80 वॉश की शुरुआत की, जो 80 सेकेंड में कपड़े साफ कर सकता है। हालांकि, सफाई का समय (स्पिन) कपड़े और दाग के साथ बदलता रहता है।

डिवाइस किस तकनीक पर काम करता है

इसमें आप मेटल कंपोनेंट्स और पीपीई किट को भी साफ कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ मिनट और थोड़ा पानी खर्च करना होगा। यह मशीन आईएसपी स्टीम तकनीक पर आधारित है, जो कम फ्रीक्वेंसी रेडियो फ्रीक्वेंसी पर आधारित माइक्रोवेव की मदद से बैक्टीरिया को मारती है।

इसी तरह यह मशीन कपड़ों पर लगे दाग, धूल और रंग को भी साफ करती है। इसके लिए कमरे के तापमान पर शुष्क भाप जनरेटर का उपयोग किया जाता है। एक साइकिल में आप करीब 5 कपड़े आधा कप पानी में 80 सेकेंड में धो सकते हैं।

मशीन दो क्षमताओं में आती है

स्टार्टअप के मुताबिक इसके लिए किसी डिटर्जेंट की जरूरत नहीं होगी। यदि अधिक दाग हैं, तो मशीन धुलाई चक्र को बढ़ा देगी। यह क्षमता 7-8KG मॉडल की है। वहीं, 70 से 80 किलो के मॉडल में 50 कपड़े साफ करने की क्षमता है। इसमें 5 से 6 गिलास पानी खर्च होगा।

फिलहाल यह मशीन पायलट प्रोजेक्ट में है। स्टार्टअप ने इसे चंडीगढ़, पंचकुला और मोहाली में होटल और अस्पतालों सहित कुल 7 जगहों पर स्थापित किया है। 80वॉश ने पे-पर-यूज मॉडल अपनाया है।

इसके लिए कंपनी छात्रों को 200 रुपये प्रति माह का सब्सक्रिप्शन दे रही है, जिसमें वे अनलिमिटेड कपड़े धो सकते हैं। स्टार्टअप को पंजाब और हरियाणा सरकार से भी मंजूरी मिल गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments